“Wisdom for Happy Family Life” : E-Seminar by Brahma Kumaris Cuttack

Cuttack ( Odisha ): The Brahma Kumaris of Jhanjirimangla in Cuttack observed the 13th Remembrance Day of Dadi Prakashmani in a beautiful way. BK Kamlesh shared the special personality traits of Dadi Prakashmani, the second administrative Head of Brahma Kumaris, with others.  She also talked about the motherly care given by Dadi to all. A day-long online Teacher’s ‘Bhatti’ (Intense Yoga) program was also held on this occasion.  In this, BK Sharda from Ambavadi in Gujarat held a powerful yoga class based on the special character traits of Dadi Prakashmani.

An E-Seminar was also held in the evening on the topic “Wisdom For Happy Family Life.”  Dr. R Kartikeyan, Padmashree and Former Director of CBI, also joined in and expressed his good wishes while sharing his many experiences.  BK Justice B. Ishwariya, Former Judge of the High Court of Andhra Pradesh,  also greeted everyone.

Dr. Pushpa; Rajyogini BK Usha, Senior Rajyoga Teacher; and Dr. Sucheta Priyavadni, Director, Student Counseling, KIIT Bhuvaneshwar, were also part of this E-Seminar.  A colorful cultural program was also held.

News in Hindi:

कटक झांजिरीमंगला सेवाकेन्द्र में दादी प्रकाशमणी जी के 13 वे पुण्य तिथि विश्व बंधुत्व दिवस के रूप में मनाई गई

आदरणीया राजयोगिनी दादी प्रकाशमणी जी के 13 वा पूण्य तिथि पर बहुत सुन्दर रूप से स्मृति दिवस मनाया गया। इस अवसर पर कमलेश दिदिजी ने दादी जी के विशेषतायें, पालना एवं दादी जी के साथ का अनुभव सबको शेयार किये । साथ साथ सुलोचना दीदी, नथमल भाई एवं कई वरिष्ठ भाई और बहन दादी जी के साथ का अनुभव शेयार किये। इस दौरान पूरे दिन Online Teacher’s Bhatti का कार्यक्रम रखा गया था। भट्टी में गुजरात अम्बावाडी के शारदा दीदी जी ने दादीजी के विशेषताओं के आधारित Powerful Class करवाये।

दादी जा के स्मृति दिवस के अवसर पर शाम 7.30 बजे E-Conference का कार्यक्रम रखा गया था। इस कार्यक्रम में विशेष शुभभावना देते हुए पदमश्री भ्राता डॉ-डॉ-आर कार्तिकेएन, भूतपूर्व सी-बी-आई डारयेक्टर (जिन्होने पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गांधी हत्या केस को हल किया है), अपने अनुभवों से लाभान्वित किये, भ्राता बी- ईश्वरीया भूतपूर्व-न्यायाधीश, उच्च-न्यायालय आंध्रप्रदेश सबको Greetings दिये। डॉ पुष्पा श्रधांजली दिये थे, राजयोगिनी कमलेश दीदीजी ने (निर्दोशिका ब्रह्माकुमारी कटक, सबजोन) आर्शीवचनों से सब की झोली भरें । इस सत्र के मुख्य विषय पर मुख्य वक्ता के रूप में प्रकाश डालें । राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी उषा दीदीजी, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका एवं नताव प्रबन्धक, माउंटआबू, विशिष्ठ वक्ता के रूप में वक्तव्य दिय डॉ. सुचेता प्रियवदनी, डायरेक्टर, स्टूडेंट काउंसलिंग, कीट, भूबनेश्वर एवं साथ में आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम रखा गया था।