Tribute to Pulwama Martyrs and Shiv Jayanti in Neemuch

Neemuch (Madhya Pradesh): International peace messengers Brahma Kumaris organized huge celebrations to mark the 83rd Shiva Jayanti celebrations. A Shiv Darshini exhibition, a Dwadasa (Twelve) Jyotirling darshan (display), and India gate models along with cut-outs of Pulwama martyrs, were organized.

A gathering of 3,000 people offered flowers to the Pulwama martyrs. CRPF IG BS Chouhan, DIG Rajiv Ranjan, along with MLA Dilip Singh Parihar were the first ones to offer prayers and flowers to the martyrs. Along with this at the model of India Gate a huge light was lit along with prayer and flower offerings. Candle lighting was done at all the 12 Jyotirlingas.

This program was so well attended that the organizers had to make special arrangements to manage the crowd. A meditation pyramid was also setup where continuous meditation was conducted with running commentaries.

BK Savitha conducted the meditation in the pyramid and everyone experienced very deep silence and supersensous joy. All the Brahma Kumaris and Kumars fully co-operated by doing tireless service. Spiritual films were shown for 8 hours continuously and almost 8,000 viewers viewed the films. Several cultural programs were also organized to mark the occasion.

In Hindi:

श्री द्वादश ज्योर्तिलिंगम, इंडिया गेट और पिरामिड दर्शन के लिए हजारों लोग उमड़े

विधायक, आई.जी., डी.आई.जी. सहित अनेक प्रमुख लोगों ने पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

नीमच : 5 मार्च-19, अन्तर्राष्ट्रीय शांतिदूत ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा आयोजित विशाल शिव अवतरण महोत्सव के प्रथम दिवस की संध्या पर शिव दर्शन प्रदर्शनी, द्वादश ज्योर्तिलिंगम दर्शन, पिरामिड में सामुहिक मेडिटेशन एवं सद्भावना सभागार में लगातार फिल्म प्रदर्शन के साथ ही विशेष रूप से इंडिया गेट, अमर जवान ज्योति एवं पुलवामा के शहीदों का विशाल कटआउट लगाया गया था जो कि सभी के लिए प्रमुख आकर्षण का केन्द्र था । दोपहर 2 बजे से रात्रि 1 बजे तक 3000 से अधिक लोगों ने पुष्प अर्पित कर पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजली प्रदान की । सर्वप्रथम सी.आर.पी.एफ. के पुलवामा में शहीद हुए जवानों के विशाल कटआउट के सम्मुख सी.आर.पी.एफ. के आई.जी. श्री बी.एस.चौहान, डी.आई.जी. श्री राजीव रंजन कुमार एवं विधायक दिलीप सिंह परिहार ने प्रत्येक शहीद के नाम का एक–एक दीप प्रज्जवलित कर पुष्पाजंली अर्पित की । सभी शहीदों के नाम पर 40 से अधिक दीप जलाऐ गए । इसी क्रम में इंडिया गेट की विशाल अनुकृति के सम्मुख शहीद स्मारक एवं अमर जवान ज्योति पर भी अखण्ड ज्योत प्रज्जवलित की गई ।

द्वादश ज्योर्तिलिंगम की भव्य झांकी तथा उन ज्योर्तिलिंगो पर लगातार फुदक रहे चार मोर पंखी कबूतरों ने सबको अपनी और आकर्षित किया तथा दर्शनाथियों में इस दृश्य के साथ सेल्फी लेने की होड़ सी मचती रही । सभी बारह ज्योर्तिलिंगो पर उपरोक्त अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलित कर उनकी आराधना की गई । इस दृश्य का इतना अधिक आकर्षण था कि बेकाबू भीड़ को समायोजित करने में आयोजकों व कार्यकर्ताओं ने काफी प्रयास करके सफलता प्राप्त की । एैसा ही हुजुम राजयोग साधना पिरामिड में निरन्तर रनिंग कॉमेंट्री द्वारा गहन शांति की अनुभूति के लिए उमड़ पड़ा, जहां राजयोगिनी बी.के.सविता दीदी ने गहन ध्यान की स्थिति में विराजित होकर सभी को गहरी शांति का अनुभव करवाया । यह प्रक्रिया दोपहर से प्रारंभ होकर लगभग 10 घण्टे तक अनवरत चालू रही । इस दौरान 3000 से अधिक लोगों ने राजयोग साधना का लाभ लिया । इस विशाल आयोजन की विशेषता यह थी कि अनेक ब्रह्माकुमारी बहनों व भाईयों ने पूरी तन्मयता व विनम्रता से प्रत्येक को उचित आध्यात्मिक मार्गदर्शन प्रदान करने की सेवा की । विशाल सद्भावना सभागार में 8 घण्टे तक अनवरत आध्यात्मिक फिल्मों का प्रदर्शन किया गया तथा शिवदर्शन प्रदर्शनी का लाभ लगभग 8000 लोगों द्वारा लिया गया । इस आयोजन के सेवाधारी बी.के.सुरेन्द्र भाई ने बताया कि जब “कर चले हम फिदा जानो तन साथियों.. अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों..’ की गूंज में जब पुलवामा के शहीदों को पुष्प अर्पित किये जा रहे थे तो अनेकानेक लोगों की आंखों में नमी एवं भावुकता देखी गई । जिले में यह पहला अवसर था जहां लगातार 12 घण्टे तक पुलवामा के शहीदों को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजली देने का हर खास व आम व्यक्ति को अवसर प्रदान किया गया ।