“Happy Life, Healthy Society” Campaign Reaches Patiala

Patiala ( Punjab ): The bus campaign called “Happy Life Healthy Society” of the social service wing of the Brahma Kumaris — travelling from Jammu to Mumbai — reached Patiala. It was given a warm welcome by the local Brahma Kumaris fraternity under its zonal In charge BK Shanta. The awareness drive covered strategic institutions like the Patiala Central Jail, the Tiwari Model School and Saket Hospital to deliver its message in addition to a noiseless scooter rally depicting posters on the main route to the Arjun Nagar center of the Brahma Kumaris.

BK Shailja, on behalf of the campaign team, gave the message of self-transformation for a better society. A happy society comprises of happy individuals. Happiness cannot be generated with outward facilities but by increasing awareness within. Rajayoga meditation is a powerful tool for self-transformation and a happy life. She urged everyone to explore their spiritual quotient with Rajayoga.

The campaign bus was warmly welcomed at all its venues, where the participants eagerly listened to its social message. The administrators of these institutions expressed interest for more such endeavors in the future.

Ms. Manju Sharma Pradhan of Kali mata mandir and Rotary Club members gave a memento to BK Shailja of the “Happy Lives Happy Society” campaign.

News in Hindi:

‘हैप्पी लाइफ, हेल्दी सोसायटी’ सामाजिक सेवा बस कैंपेन का पटियाला में हुआ भव्य स्वागत

पटियाला (पंजाब)। ब्रह्मा कुमारीज के सामाजिक सेवा अंग द्वारा चलाए जा रहे ‘हैप्पी लाइफ, हेल्दी सोसायटी’ बस कैंपेन के तहत बस जम्मू से मुंबई होते पटियाला पहुंची। यहां जोनल इंचार्ज बीके शांता के नेतृत्व में स्थानीय ब्रह्मा कुमारियों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। जागरूकता यात्रा पर निकली इस बस ने पटियाला सेंट्रल जेल, तिवारी मॉडल स्कूल एवं साकेत हॉस्पिटल का दौरा किया। इसके अलावा, बिना शोर किए स्कूटर रैली भी निकाली गई। अभियान दल की ओर से बीके शैलजा ने स्वयं में परिवर्तन को लेकर संदेश दिए, जिससे कि एक खुशहाल समाज का निर्माण हो सके। उन्होंने कहा कि एक खुशहाल समाज, खुशहाल लोगों को मिलकर बनता है। बाहरी चीजों से खुशी नहीं हासिल की जा सकती, बल्कि अपनी अंदरुनी शक्ति एवं ज्ञान को बढ़ाकर ऐसा किया जा सकता है। इसमें राजयोग मेडिटेशन एक शक्तिशाली माध्यम हो सकता है। बीके शैलजा ने लोगों से अपनी आध्यात्मिक क्षमता को पहचानने का आह्वान किया। इस दौरान काला माता मंदिर की प्रधान मंजू शर्मा एवं रोटरी क्लब के सदस्यों ने अभियान के लिए बीके शैलजा को एक प्रतीक चिह्न भेंट किया।