Grand Shiv Jayanti Celebrations in Kota

Kota (Rajasthan): On the occasion of Maha Shivratri, grand celebrations were held with a huge procession featuring nine floats.

The celebrations also included cultural programs, cake cutting and candle lightening. For the first time the Royal family of Kota participated in the event.

Her Highness and the princess Mrs. Kalpana Devi along with political and government officials participated in the event. The guests were felicitated by the Brahma Kumaris.

Princess Kalpana Devi said that her family has a long-standing relationship with the Brahma Kumaris since they come every year to tie Rakhi. Then the procession was inaugurated and  the spiritual message of Shivratri was shared.

The floats were beautifully decorated with full spiritual knowledge about Soul, Supreme Soul God Father Shiva and the Eternal World Drama. The procession concluded with the distribution of gifts and sweets.

In Hindi:

प्रजापिता ब्रहामाकुमारी ईश्वरीय विश्वविधालय “ शक्तिसरोवर “ कुन्हारी कोटा के तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम “महाशिवरात्रि महोत्सव” दिनांक 3 मार्च 2019 रविवार को सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक बड़े ही धूमधाम से मनाया गया l इस कार्यक्रम के तहत महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर करीबन 15 वर्षो के बाद पुरे कोटा शहर में पहलीबार शिव जयन्ती महोत्सव में वाहन रैली का तथा पुरे 9 झाँकीयों के साथ, 100 दो पहिया वाहन व् 40 चार पहिया वाहन, व् 2 रथ के साथ महा रैली का महा-आयोजन किया गया l इसका शुभारम्भ कोटा के मुख्य सेवाकेंद्र शक्तिसरोवर से हुआ तथा समापन भी यहाँ ही हुआ l

महाशिवरात्रि महोत्सव का शुभारम्भ बी.के. उर्मिला बहन में शिव अमृतवाणी “मुरली” सुनाकर आरंभ किया , व् शिव परमात्मा को भोग लगाया गया , साथ ही बहन पूजिता के द्वारा नृत्य भी प्रस्तुत किया गया – सूरज जब पलके खोले मन नम: शिवाय बोले तथा शिव पिता का जन्मदिन केक काटकर बड़े ही हर्षोल्लास के साथ टीचर्स बहनों के साथ मिलकर मनाया गया l साथ ही एक छोटे से बच्चे ने गीत गाकर पुरे महफिल को और भी उजागर कर दिया , तथा पुरे कार्यक्रम बी.के. अमित भाई जी ने ( फ.ऍम. rj ) किया और भारत फिर भरपूर बनेगा गीत गाकर पूरे महफिल खूबसूरत बना दिया l यह शिव रात्रि का पर्व पूरे इंदौर जोन में “ विष विनाशक है शिवरात्रि ” के रूप में मनाया गया , जिसके तहत सभी लोगों ने अपने अन्दर के अक और धतूरे रुपी अवगुण को एक पत्र लिखकर शिव जी पर अर्पित किया l

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में – कोटा के इतिहास में पहली बार कोटा शहर के राजा इजराज सिंह जी की धर्मपत्नी व् कोटा शहर की युवरानी श्रीमती कल्पना देवी जी ( पूर्व सांसद, लाडपुरा विधायक भी है ) को आमंत्रित किया गया , तथा डॉ. भ्राता अजित धाकड़ जी को व् भ्राता शम्भू दयाल मीणl जी( a.d.m.) को आमंत्रित किया गया ,व् कोटा संभाग प्रभारी बी.के. उर्मिला बहन सहित इन सभी अतिथियों का स्वागत तिलक, बैच , गुलदस्ते व् ओम शांति का पट्टा व् कैप पहनाकर भव्य रूप से स्वागत किया गया l साथ ही माननीय कल्पना देवी जी का शाल ओढ़कर सम्मान भी किया l तत्पश्चात छोटी से बहन अनवी ने शिवरात्रि का महत्व भी बताया l फिर बी.के. उर्मिला बहन ने सभी अतिथियों का शब्दों व् भावों के माध्यम से श्रृंगार किया l तथा युवरानी कल्पना देवी जी ने कहा की मेरा इस ब्रह्माकुमारी संस्था से बहुत पुराना रिश्ता है क्योकि ये बहने रक्षाबंधन के अवसर पर युवराज जी को राखी बंlधने आते है इसलिए इनका और हमारा बहुत ही पक्का रिश्ता है l इतना कहकर सभी ने मिलकर शिव ध्वजारोहण किया , तत्पश्चात शिव दर्शन झाँकी का रिबन काटकर उदघाटन किया , तथा शिव लिंग पर मलायार्पण किया , शिव जी के आरती भी की, यह झाँकी हम सभी को यही सन्देश दे रही है शिव जी की जटा से निकली गंगा हम ज्ञान गंगाए है , और हमें उसी की लगन में मगन होना है l तथा आये हुए सभी अतिथियो को ईश्वरीय सौगात व् ईश्वरीय प्रसाद भी दिया गया l तत्पश्चात युवरानी कल्पना देवी जी ने महाशिवरात्रि शोभा यात्रा को शिव ध्वज दिखाकर शोभायात्रा को रवाना किया और अपनों गूड विस्हेस प्रदान की l

शोभायात्रा का प्रारंभ प्रात: 10 बजे हुआ, यह शोभायात्रा वाहन रैली पर आधारित है , इसमें सर्व प्रथम पायलेट गाड़ी , फिर सभी दो पहिया वाहन, फिर 2 रथ शिव लिंग के साथ , फिर सभी झांकियां , जिसमे सर्व आत्माओं का पिता परमात्मा , शिव और शंकर में अंतर , पुरुषोतम संगमयुग , स्वर्णिम भारत , स्वछता अभियान , त्रि- मूर्ति , 5 विकार , महाकाल आदि सभी चैतन्य झाँकियो का पुरे कोटा शहर में अवलोकन कराया गया , जगह – जगह पर सभी शोभायात्रा में आने वाले भाई – बहनों का व् सभी झांकियों का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया , इसप्रकार यह शोभा यात्रा पुरे कोटा में प्रात: 10 बजे से सांय 4 बजे तक शहर में छाकर लगाया तथा सभी को गीतों व् शब्दों के माध्यम से शिव परमात्मा का परिचय बी.के. अमित भाई जी ने दिया , इस झाँकी ने पुरे शहर में ब्रहामाकुमारी का पैगाम बहुत ही हर्ष व् खुशी , उमंग – उत्साह के साथ दिया गया, इस कार्यक्रम में तक़रीबन 500 भाई – बहन शामिल हुए सभी कार्यक्रम की बहुत ही अच्छी शोभा बढाई, इस प्रकार कार्यक्रम का समापन हुआ , तथा अंत में शक्तिसरोवर आने के पश्चात बी.के. उर्मिला बहन ने सभी को धन्यवाद भी दिया , और सभी ब्रह्मा वत्सो को ब्रह्मा भोजन भी कराया गया l झाँकी में सहयोगी सभी भाई – बहनों को बी.के. उर्मिला बहन ने ईश्वरीय सौगात दी l