“Golden Society Through Positive Thoughts” Event by Brahma Kumaris, Sadabad

Sadabad ( Uttar Pradesh ): The Brahma Kumaris of Sadabad in Uttar Pradesh organised a special program at their Centre Shiv Shakti Bhawan to deliberate on creating a Golden Society through positive thoughts, as  part of activities by the Rural Development Wing of the Brahma Kumaris.

BK Raju, Vice Chairperson of the Rural Development Wing, Mount Abu, was the Chief Guest on this occasion.  BK Rajendra from Palwal, Haryana; BK Sita, District in-Charge; Sadhvi Madhumati Tiwari from Barsana; BK Subhash from Mount Abu; BK Bhavna, local Centre in-Charge; BK Vinita from Agra; BK Vijaya from Tundla; BK Seema and BK Gita Goud from Dawooji were also present on the dais. As a gesture of honour all the guests were welcomed with turbans as headwear, a sandal paste tilak on the forehead, and flower bouquets.

BK Raju addressing the gathering said, “It is certain that all our needs in life will be fulfilled if we develop positive thinking. By keeping our thoughts consistently positive we can create a Golden Society where everyone can live in peace, bliss, mutual love, happiness and feel secure. For this we have to shed feelings of hatred, dislike and jealousy toward others.   Rather, we must emerge the sense of brotherhood; being the children of One God, we belong to One Family. Today negativity has gone to such an extent that man is not sad due to his own sufferings but more so because others are happier than him. So, relationship of brotherhood is at the verge of extinction. Therefore, God has to descend Himself to restore love and compassion among us through Rajayoga. So we need to learn Rajayoga that brings happiness in our life and keeps negativity at bay.”

BK Raju was then felicitated by office bearers of the Hindi Sahitya Seva Sangh, Mr. Noor Mohammed, Poet; Mr. Rambabu Pippal, Poet; Mr. Jayprakash Pachori, Poet; and Dr. Suresh Sadabadi, Lyricist. They all rendered their own compositions in his honour.

BK Rajendra then explained the advantages of Consistent Yogic Farming and said that today we have caused a lot of harm to Nature. So in order to save it we must go on planting saplings of trees more and more and give them positive vibrations for their fast and healthy growth.

BK Sita said, “Decision-making power increases in a person who has a positive attitude. For this, the company of good people is very important to have. It becomes our habit to always have positive thoughts if we are in the company of positivity. In case of finding it difficult to always create positive thoughts, then it becomes a must to learn and practice Rajayog in our life.”

Sadhvi Madhumati Tiwari gave some tips for the concentration of Mind.

BK Subhash suggested certain ways to keep our body healthy.

BK Vinita, BK Seema, BK Vijaya and Sister Gita Goud also expressed their views while BK Bhavna extended her gratitude and thanked everyone on behalf of the Brahma Kumaris.

In Hindi:

राजयोग सिखाता है सकरात्मक विचार रखना – बी.के.राजू भाई

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय सादाबाद ‘शिव शक्ति भवन ‘ पर आज एक विशेष कार्यक्रम
” सकारात्मक सोच द्वारा स्वर्णिम समाज ‘  विषय पर एक आध्यात्मिक कार्यक्रम हुआ । कार्यक्रम में मंचासीन सभी अतिथियों का स्वागत पुष्प , चंदन व मुकुट पहनाकर किया गया ।
कार्यक्रम में मुख्य वक्ता ब्रह्माकुमारीज मुख्यालय माउंट आबू , राजस्थान से ब्रह्माकुमार राजू भाई ज़ी , उपाध्यक्ष ग्राम विकास प्रभाग , ने जन सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि अपने जीवन में सकारात्मक विचार धारण करने से हम अपने जीवन में जो संकल्प करें , वह निश्चित ही पूरे हो जाते हैं । सकारात्मक सोच रखने से हम एक नया समाज स्वर्णिम समाज बना सकते हैं। एक ऐसा समाज जहाँ सभी आपस में अमन , प्यार , शांति , सुख , आनंद से रह सकेंगे । ऐसे समाज के लिए हम सभी को मिलकर आने आगे आना होगा । और अपने जीवन में हर एक व्यक्ति को एक दूसरे के प्रति घृणा , ईर्ष्या, द्वेष भाव छोड़, वसुधैव कुटुंब की भावना जाग्रत करनी होगी। और एक परमपिता परमात्मा शिव की संतान आपस में भाई-भाई की दृष्टि अपनानी होगी । आज विश्व में नकरात्मकता का प्रभाव इतना बढ़ गया है कि आज इंसान अपने दुख से दुखी नही बल्कि दूसरो के सुख से दुखी है । आपस में भाई चारा समाप्त होने के कगार पर खड़ा है । प्रेम सदभावना की पुनः स्थापना के लिये भगवान को स्वयं अवतरित होना पड़ता है । वर्तमान समय हम सभी को राजयोग सीखने की आवश्यकता है । राजयोग से हमारे जीवन में खुशियाँ आती है । राजयोग नकरात्मकता से दूर रखता है । आदरणीय राजू भाई जी को हिंदी साहित्य सेवा संघ सादाबाद के संस्था के पदाधिकारी कवि नूर मोहम्मद नूर, रामबाबू पिप्पल , जयप्रकाश पचोरी डॉक्टर सुरेश सादाबादी जी गीतकार द्वारा सम्मानित किया गया। और आदरणीय भाई जी के सम्मान में सभी कवियो ने काव्य पाठ किया ।
पलवल (हरियाणा )से आये बी .के राजेन्द्र भाई ने बताया शाश्वत यौगिक खेती करने के प्रयोग व फायदे बताये और कहा क़ि आज प्रक्रति पर बहुत अत्याचार हो रहा है । हम सभी को अधिक से अधिक संख्या में पेड़ पौधो लगाने चाहिए और उनके पास में बैठकर पौधो को सकारात्मक सकाश दे।
जनपद प्रभारी बी .के .सीता बहन जी कहा कि सकारात्मक विचार वाले व्यक्ति की निर्णय शक्ति बढ़ जाती है। विचारों की सकारात्मक बढाने के लिए संग का भी बड़ा महत्व है । अगर हमारा संग सकारात्मक है। वहां सकारात्मक सोच का संस्कार एक आदत बन जाती है । यदि हमारे अंदर सकारात्मक सोच आने में कठिनाई आती है । इसके लिये हमें राजयोग को अपने जीवन में अपनाना अति आवश्यक है।
बरसाना से आई साध्वी मधुमति तिवारी ने मन को एकाग्र करने का उपाय बताया।
माउंट आबू से आए डॉ बी.के सुभाष भाई ने स्वास्थ्य से संबंधित उपाय बताएं कि अपने शरीर को कैसे स्वस्थ रख सकते हैं।
स्थानीय सेवा केंद्र प्रभारी बी .के . भावना बहनजी ने सर्व जनों का बहुत आभार व्यक्त किया है।
इस अवसर पर आगरा से बी.के विनीता बहन , टूण्डला से बी.के .विजय बहन , बहन गीता गौड़ , दाऊजी से बी .के .सीमा बहन , ने अपना वक्तव्य रखा ।