De-Addiction Public Awareness Program in New Mumbai Vashi

Vashi ( Maharashtra ): The Brahma Kumaris of New Mumbai, Vashi, celebrated the New Year through a program, “Public Awareness on De-addiction,” near the Railway Station of Vashi.

It was organised in association with the Anvay De-addiction Centre, the Maharashtra De-addiction Council, and sponsored by The Galaxy Surfactants, Ltd. The purpose of this function was to forget sorrows of the passing year and welcome the New Year with New hopes of getting Happiness in Life.

In this connection, the Brahma Kumaris also arranged street shows for people to understand the effects of addictions and to know the remedy to get rid of their bad habits.

The function was attended by Dr. Ajit Magdoom, President of the Anvay De-addiction Centre; BK Shubhangi, Sanpara Centre in Charge; Vice President Mr. Eknath Tambvekar and Mrs. Varsha Vidya Vilas, Secretary General, both representing the Maharashtra De-addiction Council; and Mr. Aadarsh Nayar, Chairman of Galaxy Surfactants, Ltd.

BK Sheela said, “Among the total number of Indians habituated to intoxication, 15% to 20% are the Youth, which is alarming for the Country at large.” She said, “To be Happy in the future, it is necessary to beg pardon for our past misdeeds, and at the same time we must take a firm decision that we shall free ourselves from the ill effects of addictions, and by the practice of Rajayog Meditation we shall Empower our Inner Self.” She also said that hereafter in the New Year we shall not think of taking revenge, but shall transform ourselves.

The program was well attended and the message was well received in general.

In Hindi:

आने वाले नए साल के साथ एक नव आशा को पल्लवित करने, साथ ही साथ पुराने वर्ष की निराशा को भूल नव वर्ष को आनंद से मनाने की सभी की अभिलाषा है।
भारत में नशा करने वालो की कुल संख्या में से १५ से २० प्रतिशत भारत के तरुण युवा है, जो व्यापक दृष्टि से भारत के लिए नुकसान कारक है । इसी लक्ष्य को लेकर के आने वाले नए साल में नए दिन की शुरुआत नशा मुक्ति के साथ करने के हेतु, अन्वय व्यसन मुक्ति केंद्र, नशाबंदी मंडल, प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्संवरीय विश्स्थाव विद्यालय एवं गैलेक्सी सरफक्टंटस द्वारा प्रायोजित किया गया था।

कार्यक्रम का स्थान वाशी रेलवे स्टेशन रखा गया था, जिससे अनेनकानेक लाभ ले सके।

कार्यक्रम में ब्रह्मकुमारिज दारा पथ नाट्य भी प्रस्तुत किया गया था ।

आदरणीय बी के शीला दीदी ने कहा, “नए साल में हमें हमारी पुरानी ग़लतियों के लिए माफ़ी मांगने की आवश्यकता है, और इस आने वाले नए वर्ष में यह द्रढ़ निश्चय करना है की, जो बुरे कर्म, व्यसन से होते है, उससे हम मुक्त होकर रहेंगे और राजयोग के अभ्यास से हम अपनी आतंरिक शक्ति भी बढ़ाएंग। साथ ही साथ दीदी ने यह भी कहा, इस नए वर्ष में बदला नहीं लेना है, किंतु बदलकर दिखाना है।”

ब्रह्माकुमारी शुभांगी दीदी (सानपाड़ा सेवा केंद्र), भ्राता एकनाथ तम्बवेकर (उपाध्यक्ष, नशाबंदी मंडल महाराष्ट्र), भ्राता अय्यर (चेयरमैन – गैलेक्सी सरफक्टंटस), ब्रह्माकुमारी शीला दीदी (वाशी सेवाकेंद्र संचालिका ), बहन वर्जा विलास (सेक्रेटरी जनरल, नशाबंदी मंडल महाराष्ट्र), डॉ अजित मगदूम (अध्यक्ष, अन्वय व्यसनमुक्ति केंद्र) आदि उपस्थित थे ।