Corporate Leaders Learn to Experience Joy

New Delhi:  The RCM company of Delhi hosted a programme entitled Discover the Hero Within for about 5,000 leaders to mark the 18th anniversary of the firm at Thyagaraj Stadium here.

Renowned motivational speaker and mind trainer BK Shaktiraj from Mount Abu was invited to interact with the participants. He said the password for our happiness is within us. We just need to learn the art of accessing it. For achieving lasting peace, happiness and joy, we must learn to explore our inner dimensions through meditation.

BK Shakti employed several techniques like phobia buster, stress remover, confidence booster, relaxation meditation and Rajyoga meditation to drive home the concept of “personal well-being.”

The participants drawn from across the country evinced keen interest in experiencing Rajyoga meditation at the event. He also emphasized the need to take charge of our mind with the help of meditation to lead a happy and peaceful life.

In Hindi : 

दिल्ली के त्यागराजन स्टेडियम में RCM कंपनी के 18वी वर्षगांठ पर 5000 लीडर्स के लिए ‘Discover The Hero Within’ Program रखा गया, जिसमे माउंट आबू के बी के शक्तिराज भाई
(अंतरराष्ट्रीय माइंड ट्रेनर,मोटिवेशनल स्पीकर) को विशेष इस डायनामिक वर्कशॉप के लिये आमंत्रित किया गया,शक्तिराज जी ने बताया हमारे खुशियों का पासवर्ड हमारे पास है, जरूरत है अपने भीतर जाने की ,उन्होंने बहुत ही प्रैक्टिकल तकनीक बताई उन्होंने कहा कि “मैं भीतर गया मैं भी तर गया है” जिन्हें भी जीवन में खुशी ,शक्ति ,शांति और तनावमुक्त जीवन चाहिए, उनको भीतर जाना होगा,भीतर जाने को ही मैडिटेशन कहते है।
उन्होंने कई सारी प्रैक्टिकल तकनीक कराई,जैसे फोबिया बस्टर,स्ट्रेस रिमूवर, कॉन्फिडेंस बूस्टर,गोल सेटर,रिलैक्सेशन मैडिटेशन ,राजयोगा मैडिटेशन व अन्य। सभी लीडर्स ने पूरे प्रोग्राम को बहुत उमंग उत्साह से अटेंड किया और राजयोग मैडिटेशन का भी लाभ लिया। त्यागराजन स्टेडियम, जोश और मोटिवेशन से गूंज उठा,पूरा प्रोग्राम में Motivation और spirituality का जबरदस्त समावेश था।
इस प्रोग्राम में पूरे भारत वर्ष से कंपनी के लीडर्स आये थे।
उन्होंने बताया कि आज पूरी दुनिया M word पर डिपेंड जैसे Man ,Money, Machine, Material, medical,media, market,mobile ये सारे Mind के ऊपर डिपेंड है, आज हम भोजन से शरीर को चार्ज करते है, मोबाइल को चार्जर से, गाड़ी को पेट्रोल डीजल से पर हम अपने माइंड को चार्ज नही कर रहे है जिसके कारण सारी बीमारी है और जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।यदि हम एक और M, यानी मैडिटेशन से अपने माइंड को चार्ज कर ले तो हमारा जीवन आसान हो जाएगा और जीवन खुशियों से भरपूर हो जायेगा।