Brahma Kumaris Sensitize Doon School Children on Water Conservation

Hathras ( Uttar Pradesh ): In a joint initiative the Brahma Kumaris and the Giants Saheli club organised a sensitization programme on conservation of water for the children of Doon Public School. Addressing the assembly of students and teachers as the Chief Guest of the occasion, Senior Rajayoga teacher BK Shanta spoke that unless we understand the utility of a person or thing, we can’t access its worth. She added that one day the society will have to pay a heavy cost for the insensible wastage of water. In the meantime, a number of documentaries were shown to children displaying methods of sensible utilisation and conservation of water. A poster competition on the theme ”Save water, Save life” was organised in which children participated enthusiastically.

Praising the efforts of the Brahma Kumaris, Dr. Priyadarshi Nayak, Principal of Doon Public School, warned all that one day the world will be exhausted of its potable water reserve like fossil fuel and we will have to clean sea water to fulfill our needs.

Among others, the Vice Principal of Doon Public School Sanjaya Sharma, Giants Saheli Club Director Brij Mohanji, Innerwheel Club chairperson Radha Gawar, attended the programme.

In Hindi:

जाइन्ट्स सहेली क्लब के सहयोग से दून पब्लिक स्कूल में जल संरक्षण कार्यक्रम का किया
आयोजन

ब्रह्माकुमारीज़ संगठन ने की अध्यक्षता एवं बताई जल की महत्ता, दिया जल संरक्षण पर जोर

इस अवसर पर बच्चों की पोस्टर प्रतियोगिता का भी किया आयोजन

जल है तो कल है, जल नहीं तो कल नहीं … बीके शान्ता बहिन जब तक किसी वस्तु, व्यक्ति की उपयोगिता का अहसास नहीं होता तब तक उसकी कीमत नहीं समझी जाती। जल को मुफ्त का माल समझने वालों द्वारा व्यर्थ गंवाये गये जल की एक दिन समाज को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। यदि अभी से इसका संरक्षण बच्चों को नहीं सिखाय गया तो मिटटी के तेल की 9तरह राशन पर पानी के लिए लाइन लगानी पड़ेगी। उक्त विचार इनरव्हील क्लब के सहयोग से दून पब्लिक स्कूल में आयाजित जल संरक्षण कार्यक्रम में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की ओर से मुख्य अतिथि के रूप में पधारीं राजयोग शिक्षिका बीके शान्ता बहिन ने उपस्थित बच्चों एवं शिक्षिकाओं को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये।
| इससे पूर्व जल संरक्षण के लिए संगठन की जल प्रदर्शनी को बच्चों को अवलोकन कराकर जल के महत्व को बताया गया। विभिन्न वीडियो फिल्मों के माध्यम से जल संरक्षण की प्रेरणा प्रदान करते हुए जल की उपयोगिता एवं संरक्षित करने के उपायों पर चर्चा की गई। इस अवसर पर बच्चो की जल संरक्षण पर पोस्टर प्रतियोगिता ”पानी बचाओ-जीवन पाओ” का भी आयोजन किया गया।
| इससे पूर्व जाइन्ट्स सहेली क्लब एवं दून पब्लिक स्कूल की ओर से ब्रह्माकुमारीज़ संगठन के सदस्यों का स्वागत किया गया।
प्रधानाचार्य डॉ प्रियदर्शी नायक ने कार्यक्रम का उद्देश्य बताते हुए कहा कि जब तक हमें किसी चीज की कमी का अहसास नहीं होता तब तक हम उसकी ओर ध्यान नहीं देते। एक दिन तेल की तरह। पीने योग्य जल भी संसार से खत्म हो जायेगा और अन्य कई देशों की तरह हमें भी समुद्र का पानी साफ करके पीना पड़ेगा। उन्होंने ब्रह्माकुमारीज़ संगठन द्वारा किये जा रहे जागरूकता कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि इससे निश्चित रूप से बच्चों ही नहीं बडों में भी जागरूकता आयेगी।
इस अवसर पर दून पब्लिक स्कूल के उपप्रधानाचार्य संजय शर्मा जाइन्स सहेली के डायरैक्टर ब्रजमोहन, इनव्हील क्लब की ओर से अध्यक्षा राधा गावर, दीपा चढढा, ज्योति, गुंजन दीक्षित, , कपिल अग्रवाल, ज्योइन्टस फेडरेशन अशोक अग्रवाल, नीतू कविता, नीलम, डॉली, शालिनी, गरिमा, शुभम, आदि उपस्थित थे।