Brahma Kumaris Celebrate Shivratri at Gyansarovar

Mount Abu (Rajasthan): The Brahma Kumaris celebrated Shivratri at Gyansarovar and Global Hospital in Mount Abu with great splendor. It saw Dadi Janki, Head of the organization; BK Nirmala, Director of Gyan Sarovar; BK Jayanti, European Director; BK Karuna, Chief Spokesperson of the Brahma Kumaris; and the BK fraternity from India and all over the world, who came together in love and remembrance of God Shiva.

Dadi Janki raised the flag of the Supreme Soul as symbolic of His protection and ownership. While welcoming the foreigners warmly, she said that all of them are her brothers and sisters. Shivratri is the birthday of all of us as the children of that Supreme Soul. She expressed her wish to visit every country wherever the homes of the Supreme Father have been built. She said that all of them were very good and it was their love only that had managed to pull her up the mountain to be with  them today. All of us must march on bravely as we have to go very far.

The place reverberated with vibrations of peace and harmony as everyone mingled together with happiness.

In Hindi :

भाग्योदय करने का पर्व है शिवरात्रि…ज्ञान सरोवर में शिवरात्रि कार्यक्रम
माउंट आबू, ब्रह्माकुमारी संगठन की मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी जानकी ने कहा कि अशांति की जंजीरों में जकड़े संसार को पापाचार से मुक्त करना एक परमात्मा का ही कत्र्तव्य है। शिवरात्रि के रोचक व रहस्यमय पौराणिक प्रसंगों का महातम्य जानने से ही शिव परमात्मा से मन के तार जोड़े जा सकते हैं। शिवरात्रि पर्व स्वयं का भाग्योदय करने का पर्व है। यह बात उन्होंने शुक्रवार को ब्रह्माकुमारी संगठन के ज्ञान सरोवर अकादमी परिसर में शिवरात्रि कार्यक्रम में कही।  
ज्ञान सरोवर निदेशिका राजयोगिनी बीके. डॉ. निर्मला ने कहा कि अपकारी पर भी उपकार करने की सोच बनाए रखते हुुए समाज के हर प्राणी सुखी हों, सबका कल्याण हो, इन्हीं सकारात्मक विचारों को मन में स्थान दिया जाना ही महानता का प्रथम सोपान है। 
लंदन से आई यूरोप सेवाकेंद्र प्रभारी बीके जयंती बहन ने कहा कि मानसिक शांति की प्राप्ति के लिए भारतीय संस्कृति को अपनाने को लेकर पश्चिमी जगत में जागरूकता बढ़ी है। 
खेल प्रभाग राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीके. शशि बहन ने कहा कि जीवन में कुछ प्राप्त करने के लिए त्याग की भी जरूरत होती है इसलिए चाहिए चाहिए की भावनाओं को अभी समाप्त कर देना चाहिए।
मल्टीमीडिया प्रभाग अध्यक्ष बीके करूणा भाई ने कहा कि पाप जब लोगों के सिर पर चढ़कर बोलने लगता है तभी परमात्मा शिव का अवतरण होता है। शिवरात्रि पर्व का यह वही समय है जब परमारत्मा इस धरा पर अवतरित होकर सर्व आत्माओं को पापों से मुक्त करने के लिए पावन बनाने का कार्य कर रहे हैं।  कार्यक्रम में शिक्षा प्रभाग उपाध्यक्ष बी. के. शीलू बहन ग्लोबल अस्प्ताल निदेशक डॉ. प्रताप मिढ्ढा, जापान से रजनी बहन आदि ने शिवरात्रि पर्व की महता पर प्रकाश डाला।