5th Asian BK Teachers Retreat in Malaysia

Malaysia :  The 5th Asian BK Teachers Retreat on the theme “Invoking the Final Stage” was attended by 120 Rajayoga teachers who participated from Indonesia, Sri Lanka, Hong Kong, Vietnam, Thailand, Cambodia and Singapore.

The Retreat was inaugurated by lighting of lamps by BK Sudesh, European Director of the Brahma Kumaris, and representatives from participating countries.

The Retreat had a variety of programs — including a workshop on the final stage, an interview session on complete purity, drills, and 12 hours of silence — giving the participants an opportunity to stay in solitude reflecting on “The Deep Definition of the Karmateet Stage (Spiritual Perfection)” and creating an action plan to reach the Karmateet Stage. The silence was prevailing in the atmosphere, first within the self, then the collective power of silence later worked like an underground current. Many participants enjoyed the silence time, enabling them to have a deeper experience, understanding, and realizations about the self.

BK Sudesh’s loving and powerful Drishti (vision) was like spiritual injection to the souls. Participants took benefit from the deep classes and sharing of her personal experiences, powerful AmritVela (early morning meditation) and volcanic yoga bhatti (intense meditation).

BK Sudesh conducted one-hour Amrit Vela daily throughout the retreat. She was so easy, light, natural, and flowing like the Ganges in giving classes. Participants realized from her classes that it is essential to pay attention to the self in the current time, to be an active actor yet to be a detached observer on the drama stage.

The highlight of the retreat was the Thanks Giving Ceremony. Each participant was decorated with a beautiful flower crown and sash with two mantras “Manmanabhav” and “Madhyajibhav”. Every participant thanked God in their unique way before receiving a gift and blessing. Participants felt God’s presence and deep love throughout the ceremony. The whole ceremony was very moving, and it concluded with a Garba Dance.

There was a special program for Hindi-speaking souls at the BK Sentul Centre. Nearly 30 souls took benefit from the program. There was a one-day retreat on the theme “Increasing the Power of Concentration” in which more than 200 BKs took full benefit.

News in Hindi:

मलेशिया में हुआ एशियाई राजयोग टीचर्स का पांचवां रीट्रीट

-120 राजयोग टीचर्स ने लिया हिस्सा

-साइलेंस को लेकर विशेष सत्र का आयोजन

मलेशिया। मलेशिया में एशियाई बीके टीचर्स का पांचवां रीट्रीट आयोजित किया गया। इसमें इंडोनेशिया, श्रीलंका, हॉन्ग कॉन्ग, वियतनाम, थाईलैंड, कंबोडिया एवं सिंगापुर के 120 राजयोग टीचर्स ने भाग लिया। ब्रह्मा कुमारीज की यूरोपीय निदेशक बीके सुदेश ने दीप प्रज्ज्वलित कर रीट्रीट का शुभारंभ किया। इस दौरान कई प्रकार के कार्यक्रम एवं सत्र आयोजित किए गए। अंतिम अवस्था यानी फाइनल स्टेज को लेकर वर्कशॉप के अलावा पवित्रता को लेकर इंटरव्यू सेशन,ड्रिल्स एवं 12 घंटे के साइलेंस का अभ्यास कराया गया,जिससे कि प्रतिभागी कर्मातीत अवस्था का अनुभव करने के साथ ही वहां तक पहुंचने का अभ्यास कर सकें। इससे उपस्थित आत्माओं ने अपने अंदर मौन का अनुभव किया और आखिर में उसका प्रभाव समूचे वातावरण में महसूस किया गया। प्रतिभागियों ने इस साइलेंस का भरपूर आनंद लिया और अपने स्व की अनुभूति की। वहीं, बीके सुदेश की आत्माओं को प्रेम भरी शक्तिशाली दृष्टि किसी आध्यात्मिक इंजेक्शन की तरह रही। प्रतिभागियों ने रीट्रीट के दौरान अलग-अलग प्रकार की क्लासेज एवं अपने निजी अनुभवों को साझा किया। सभी ने अमृत वेले से लेकर ज्वालामुखी भट्टी तक गहन साधना की। बीके सुदेश ने हर दिन एक घंटे का अमृत वेला कराया। उनकी वाणी इतनी सहज, हल्की औऱ स्वाभाविक थी। ऐसा लग रहा था कि ज्ञान गंगा की अविरल धारा बह रही हो। उनकी कक्षाओं से सीख मिली कि वर्तमान समय में खुद पर ध्यान देना यानी अटेंशन देना कितना महत्वपूर्ण हो गया है। हमें एक्टिव एक्टर रहते हुए, साक्षी होकर ड्रामा को देखना है। इसके अलावा, थैंक्स गिविंग सेरेमनी रीट्रीट का मुख्य आकर्षण रही। हरेक प्रतिभागियों को सुंदर फूलों के ताज से सजाया गया था। हरेक प्रतिभागी ने अपने अनूठे तरीके से बाबा को धन्यवाद दिया, जिसके बाद उन्हें ईश्वरीय सौगात भेंट की गई। रीट्रीट का समापन गरबा नृत्य के साथ हुआ। रीट्रीट में हिंदी भाषियों के लिए अलग से बीके सेंतुल सेंटर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इसमें 30 आत्माओं ने लाभ प्राप्त किया। इसके अलावा एकाग्रता की शक्ति बढ़ाने को लेकर हुए रीट्रीट में 200 बीके ने लाभ प्राप्त किया।

This slideshow requires JavaScript.