“Brahma Kumaris Enlighten the Universe with Spiritual Energy” says Mr.Parihar, MLA

Neemuch(Madhya Pradesh): “In the field of Service to Mankind, Selflessness, Sacrifice, Penance all must be there. Relationship is more important than Academic Degrees and Ego”. It was quoted by BK Surya, Philosopher of Human Psychology, Mindful Sage and a Powerful Raja Yogi from Mount Abu.

During his tour of 5 days all over the Neemuch District, he personally met with all the members of Brahma Kumaris Centre, who sacrificed their time, food, sleep and comforts for all 5 days of his tour program. He did Raja Yoga meditation with them to make them free from exhaustion.

He was accompanied by BK Gita, an Eminent Orator and BK Rupesh, Popular Anchor of TV Talk Show, Samadhan. They were given a grand and hearty welcome by the members of the Brahma Kumaris and many District Officers.

In his address, he said, “In today’s World it is evident that many of the Associations and Institutions are doing service for Name, Fame, Selfishness and Prestige. But it is a matter of great Honour that the services rendered by members of the Brahma Kumaris Centres all over the World, heartily with Selfless Love, Goodwill, Sacrifice and with Penance are praiseworthy. It is the only Organisation where no donations or charities are ever accepted from the Public.”

On the last day “SAMADHAN” program was organized, and the interaction with the audience was initiated by lighting the lamps by Mr. Dilip Singh Parihar, MLA, Rajayogi BK Surya Bhai, Special District Judge, Mr. R P Sharma, Mr. BS Chowhan, IG of Central Reserve Police Force(CRPF),  Mr. DS Chouradia, an Industrialist, Dr. Ashok Jain, President of Indian Medical Association, Mr. Santosh Chopra,  Dr. Gill,  Mr. Vimal Goyal and Mr. Jambu Kumar Jain and other dignitaries.

On this great occasion, Mr. Parihar, MLA said, “Brahma Kumaris are enlightening entire Universe with the Power of the Spiritual Energy. We get real Happiness here”. He said, “In external Material World full of rustle-bustle, we are all wastefully running around while true Happiness and Peace are readily available on coming into this campus of Brahma Kumaris”.

Mr BS Chowhan said, “I am closely in touch with Brahma Kumaris since many years. Though I am not able to attend their classes daily, my affection and co-operation is ever there for them. Peace, Happiness and Wisdom can be profoundly felt here. They are offering their services immensely for the good of Society and the World at large“.

The motivational Orator BK Gita mentioned with all Spirit, “Today in hardships, like a Stepney we are using God. Instead by realisation, make Him the Steering, then even on thorny roads of our life, the Tyre will never get punctured and we can become carefree”. She then gave some easy tips to wipe off our ill feelings that were the cause of differences among our relationships in life.

BK Rupesh sought answers from BK Surya for the questions asked by the public by Whatsapp, SMS and by letters in person, for which remedial tips were given with true examples. He said, “Set up your daily routine for the whole day. Get up early and meditate for 10 minutes. Give your Thoughts Strong Positive Creative Energy and spend the day. Again for 10 minutes before going to bed, get your Self empowered with good Positive Thoughts. These few minutes of Rajayoga Meditation will change your entire Life”. He said that simultaneously you will get rid of your Tensions, Stresses, Sorrows, Depressions, Differences, lack of Peace, Mental or Physical Sicknesses etc, very easily.

BK Surendra, Area Director of Brahma Kumaris, presided over the whole function.

At the end people thronged BK Surya and were all extremely happy to talk with him and get the personal problems answered. They were all given holy Prasad, offered to God. They left with the common comment that they never ever came across such useful events in life. The whole Audience were so enchanted that the program got prolonged for nearly one and half an hour than the scheduled closing time.

———————————————————————————————————————

सेवा के क्षैत्र में नि:स्वार्थ भाव और त्याग, तपस्या होनी चाहिए–बी.के.सूर्य

संबंधों का महत्व ज्यादा है, न कि अहंकार अथवा डिग्री का…

नीमच : मानव मनोविज्ञान के गहन ज्ञाता, मानस महर्षि, संकल्प सिद्ध योगी, बी.के.सूर्य भाई ने पांच दिवसीय नीमच जिले के प्रवास के अन्तिम दिन अपनी निद्रा व भोजन त्याग, तपस्या और दिन रात की मेहनत से पांच दिन कि अथक सेवा देने वाले ब्रह्माकुमारी संस्थान के सेवाधारी भाई बहनों से विशेष मुलाकात करके उन्हें सम्बोधित किया एवं राजयोग मेडिटेशन की गहन अनुभूति करवाकर उनकी सारी थकान उतार दी एवं आनन्द से सारोबार कर दिया । आपने कहा कि “वर्तमान समय अनेक संस्थानों व संगठनों में देखा जा रहा है कि सेवा के क्षैत्र में स्वार्थ अथवा नाम, मान, शान की चाहना प्रवेश कर गई है । किन्तु यह बहुत गौरव की बात है कि ब्रह्माकुमारी संस्थान के विश्व व्यापी केन्द्रों में जो लाखों भाई बहन सारे विश्व की सेवा कर रहे हैं उनका नि:स्वार्थ मानव प्रेम, सद्भावना, और त्याग, तपस्या का भाव स्तुत्य है । आज केवल एकमात्र यह संस्थान है जिसके सदस्य अपने ही तन, मन, धन, जन व सम्बन्ध, संपर्क सहित सेवा में समर्पित हैैं और न किसी भी प्रकार का दान, दक्षिणा, चंदा अथवा शुल्क वसूला जाता है । इस कार्यक्रम में राजयोगी सूर्य भाई सा., बी.के.गीता दीदी एवं लोकप्रिय टीवी एंकर बी.के.रूपेश कुमार का संस्थान के अनेकानेक सदस्यों एवं जिले के पदाधिकारियों द्वारा भावभीना सम्मान समारोह भी सम्पन्न किया गया । सूर्य भाई के इस अंतिम समापन एवं सम्मान समारोह की पूर्व संध्या पर नीमच नगर के विशिष्ट एवं मध्यम वर्ग के आमंत्रित लोगों के लिए सर्व समस्याओं के समाधान की टिप्स बताने वाले कार्यक्रम ‘समाधान’ का आयोजन सम्पन्न हुआ । इस कार्यक्रम का शुभारंभ स्पेशल जिला जज श्री आर.पी.शर्मा, सी.आर.पी.एफ. के आई.जी.श्री बी.एस.चौहान, विधायक श्री दिलिप सिंह परिहार, उद्योगपति श्री डी.एस.चौरड़िया, इण्डियन मेडिकल एसो. के अध्यक्ष डॉ. अशोक जैन, संतोष चौपड़ा, डॉ. गिल, विमल जी गोयल एवं जम्बू कुमार जैन सहित संस्थान के प्रमुख पदाधिकारियों ने बी.के.सूर्य भाई सा. के सानिध्य में दीप प्रज्जवलित करके किया ।
इस अवसर पर आई.जी. श्री पी.एस.चौहान ने बताया कि मैं काफी सालों से ब्रह्माकुमारी संस्थान से नजदीक से जुड़ा हुआ हूँ । नियमित तौर पर चाहे न आ पाऊं किन्तु मेरे स्नेह व सहयोग सदा इस संस्थान से जुड़ा रहता है, ब्रह्माकुमारी संस्थान में ज्ञान व सुख, शांति का अथाह स्त्रोत है । और यह संस्था समाज व राष्ट्र के लिए अपना बहुत योगदान दे रही है ।”

विधायक श्री परिहार ने कहा “ब्रह्माकुमारी विश्व विद्यालय पूरे विश्व को आध्यात्मिक उर्जा प्रदान कर प्रकाशमान कर रहा है । यहां आकर सच्चा सुख मिलता है । बाहर की दुनिया में तो बेकार की भौतिक दौड़ है, सच्चा सुख व शांति तो इस प्रांगण में आकर सभी को मिल जाती है । कार्यक्रम की प्रेरक वक्ता बी.के.गीता दीदी ने जोशिले अन्दाज से सबको समझाया कि हम परमात्मा को या तो आपत्तिकाल में या स्टेपनी की तरह यूज करते है । किन्तु यदि सर्वशक्तिवान परमात्मा के सत्य स्वरूप को पहचानकर उसे अपनी जीवन रूपी गाड़ी का स्टेयरिंग बना लें तो जीवन में दुख रूपी कांटे से गाड़ी पंचर ही ना हो । आपने पारिवारिक सम्बन्धो में जो दूरियां बढ़ रही है उसके समाधान हेतु अनेकानके सहज, सरल टिप्स बताऐ । समाधान के ‘टॉक शो’ में विभिन्न टीवी कार्यक्रमों के पापुलर एंकर बी.के.रूपेश कुमार ने नीमच जिले के लोगों द्वारा एस.एम.एस. अथवा व्हाट्सएप तथा रूबरू उपस्थित होकर जो प्रश्न लिखकर दिये उनके राजयोगी बी.के.सूर्य भाई सा. से समाधान के सरल टिप्स पूछे । राजयोगी सूर्य भाई सा. ने अनेक उदाहरणों के प्रत्यक्ष प्रमाण सभी के सम्मुख रखकर बताया कि यदि हम अपनी दिनचर्या को सेट करके चलें, प्रात:काल जल्दी उठें और उठते ही यदि केवल 10 मिनिट राजयोग मेडिटेशन का प्रयोग कर अपने संकल्पों को रचनात्मक उर्जा प्रदान कर प्रतिदिन के लिए एक पवित्र लक्ष्य निर्धारित कर सारे दिन की दिनचर्या व्यतीत करें और रात्रि शयन के पूर्व भी केवल 10 मिनिट अपने आप को दें तो राजयोग ध्यान के वे अनमोल पल आपकी जिन्दगी को संवार देंगे साथ ही तनाव, दुख अशांति, डिप्रेशन, कलह, क्लेश संबंधों में कटुता और अनेकानेक मानसिक व शारिरीक बीमारियों से सहज मुक्त हो सकेंगे । कार्यक्रम का संचालन संस्थान के एरिया डायरेक्टर बी.के.सुरेन्द्र ने किया इस कार्यक्रम के समापन पर अधिकांश लोगों ने बी.के.सूर्य भाई सा. को अपनी स्नेह पाश में बांधकर घेर लिया और अपनी अनेकानेक निजी समस्याओं का हल पूछकर बड़े प्रफुल्लित हुए । सभी आपस में यही चर्चा करते हुए सभागार से बाहर निकले कि सचमुच एैसा उपयोगी एवं व्यवहारिक कार्यक्रम अब तक और कहीं नहीं मिल पाया । सभी लोग प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से अपनी समस्याओं का समाधान पाकर बहुत खुश थे एवं कार्यक्रम के निर्धारित समय से डेढ़ घण्टा अधिक हो जाने पर भी पूरा समय जमे रहे । अंत में सभी को पवित्र प्रसाद के पैकेट प्रदान किये गए ।