Women are the Gateway to Heaven

Women Empowerment Seminar at Kumbh

Prayagraj, Allahabad (Uttar Pradesh) : The Brahma Kumaris organised a seminar on ‘Women Empowerment and their Contribution’ as part of the Satyam Shivam Sundaram exhibition in the ongoing Divya Kumbh spiritual fair at Sector 5 in Prayagraj (UP).

After inaugurating the program with the traditional lamp lighting, BK Shraddha shared about RajaYoga and guided everyone in the experience of spiritual peace and divine love.

Speaking at the seminar, Garden Association’s President and Chief Spokesperson, Prabha Bhargava, cited that women are to take equal responsibility and initiatives to eliminate backwardness and be torchbearers of empowerment and follow in the footsteps of some of our current women leaders like the Minister of Defense and Foreign Minister. Women are leading the way and setting an example, whether it is in taking an expedition of the world or peaking Mt. Everest, she concluded.

Regional Director of the Brahma Kumaris, BK Manorama, said that while in the world, women are considered the gateway to Hell, God has given them the title of being the gateway to heaven’Through the Brahma Kumaris, God has ensured participation of sisters and mothers in His work of world transformation. Over 50,000 students of the Brahma Kumaris who come from every religion and class, pride themselves in being a shining example of women empowerment.

On this occasion, Mrs. Ritu Suhag, Additional Municipal Commissioner of Prayagraj; Rama Singh, Principal, Arya Kanya Degree College; BK Radha (Lucknow); BK Parvati (Bareli); and BK Sarita were present.

……………………………………………………………………………………………………………………………

दिव्य कुंभ 2019 में मेला क्षेत्र के सेक्टर 5 स्थित सत्यम शिवम सुंदरम आध्यात्मिक मेले में महिला सशक्तिकरण हेतु महिलाओं का योगदान विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया| दीप प्रज्वलन के द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ करने के बाद ब्रह्माकुमारी श्रद्धा बहन ने राजयोग का अभ्यास कराते हुए सभी को आत्मिक शांति एवं परमात्म प्रेम का अनुभव कराया| संगोष्ठी में मुख्य वक्ता के तौर पर उपस्थित गार्डन एसोसिएशन की अध्यक्ष प्रभा भार्गव ने कहा कि वास्तव में महिलाओं के पिछड़ेपन का कारण जहां पितृसत्तात्मक समाज है वहीं महिलाएं स्वयं भी इसके लिए जिम्मेदार हैं |स्वयं के सशक्तिकरण की जिम्मेदारी महिलाओं को स्वयं उठानी पड़ेगी| वर्तमान सरकार द्वारा भी इस दिशा में बहुत अच्छा कदम उठाया गया है हमारे देश की रक्षा मंत्री विदेश मंत्री आदि महिलाएं हैं| आज की महिला विकास के हर क्षेत्र में आगे है चाहे फिर वह समुद्री जहाज द्वारा सारे विश्व का चक्कर लगाना हो या एवरेस्ट की चोटी फतेह करना महिलाओं ने हर जगह अपना लोहा मनवाया है | ब्रह्मा कुमारीज की क्षेत्रीय संचालिका राजयोगिनी मनोरमा दीदी ने कहां की संसार में कहा गया है कि स्त्री नर्क का द्वार है परंतु परमात्मा ने कहा की स्त्री स्वर्ग का द्वार है |प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के द्वारा परमात्मा ने विश्व परिवर्तन के अपने कार्य में बहनों एवं माताओं की सहभागिता सुनिश्चित करके यह सिद्ध भी किया |आज परमात्मा द्वारा स्थापित ईश्वरीय विश्वविद्यालय में 50000 से भी ज्यादा बाल ब्रह्मचारिणी ब्रम्हाकुमारी बहने माताएं जो संसार के हर धर्म और हर वर्ग से आती हैं विश्व में महिला सशक्तिकरण की सबसे बड़ी उदाहरण के रूप में उपस्थित हैं|

इस अवसर पर श्रीमती रितु सुहाग, अपर नगर निगम आयुक्त प्रयागराज, रमा सिंह प्रिंसिपल आर्य कन्या डिग्री कॉलेज, ब्रह्माकुमारी राधा दीदी लखनऊ, ब्रह्माकुमारी पार्वती दीदी बरेली तथा ब्रह्माकुमारी सरिता दीदी फिरोजाबाद आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहीं।