Nagpur Brahma Kumaris Celebrate Second Anniversary of Vishwa Shanti Sarovar

Nagpur( Maharashtra): The Brahma Kumaris service center called Vishwa Shanti Sarovar in Jamtha, Nagpur, celebrated its second anniversary. Two years ago, it was inaugurated by Dadi Janki, former Head of Brahma Kumaris.  Due to the coronavirus pandemic, the celebrations were confined to the residing Brahma Kumaris family members at this center.  Another 2,500 members of the fraternity joined online through YouTube.  The program held on this occasion recalled the beautiful memories of the day when Dadi Janki came to this place.

BK Asha, Director ORC, Delhi, addressed this program online. Congratulating everyone on this auspicious occasion, she spoke about the seriousness of the current time. These are testing times due to the pandemic,  but we must be ever-ready to face such sudden challenges.  We must think in a solution-oriented manner instead of repeatedly discussing the problem.  Directions given by the doctors and the government must be followed completely.  Ensuring the cleanliness of the mind and the body are of utmost importance.

BK Rajini, Director of Vishwa Shanti Sarovar, welcomed everyone to this program. She spoke about the many Godly services performed by this place until now, and those that will be held in the future.  She invited BK Asha to visit this place. This place was the dream of Dadi Janki,  which now stands fulfilled.

Mr. Sushil Aggrawal, who had donated land for Vishwa Shanti Sarovar, was also present. He congratulated everyone on this occasion.

Dance performances along with a candle lighting and cake cutting ceremony were held.  BK Varsha coordinated this event.  BK Manisha,  Deputy Director of Brahma Kumaris in Nagpur, gave the vote of thanks.

News in Hindi:

ब्रह्माकुमारीज विश्व शांति सरोवर का दुसरा वर्धापन दिन ऑनलाइन मनाया गया

जामठा, नागपूर :  ब्रह्माकुमारीज विश्व शांति सरोवर, जामठा का दुसरा वर्धापन दिवस मनाया गया। वर्तमान कोविड त्रासदी के कारण यह कार्यक्रम सिर्फ सेंटर निवासी भाई बहनों के बीच मनाया गया। ब्रह्माकुमारीज् परिवार के अन्य सभी विद्यार्थीयों ने घर में बैठे यु-टयुब पर करीब 2500 लोगों ने इस कार्यक्रम का आनंद लिया। दो साल पुर्व इस आध्यात्मिक वास्तु का विधिवत उद्घाटन ब्रह्माकुमारीज् की पुर्व प्रशासिका दिवंगत राजयोगिनी दादी जानकी जी ने सम्पन्न किया था। उन्हीं मधुर स्मृतियों को याद करके कल यह कार्यक्रम मनाया गया।

इस कार्यक्रम में संबोधित करने दिल्ली से ब्रह्माकुमारीज् ओम शांति रिट्रिट सेंटर कि निर्देशिका ब्रह्माकुमारी आशा दीदीजी ऑनलाइन जुड़े हुये थे। उन्होंने वर्धापन दिन की बधाईयां देते हुये वर्तमान समय कि गंभीरता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहां कोविड-19 की यह त्रासदी से सारा विश्व गुजर रहा है। यह अचानक परिस्थिती आई है, जिसके लिये किसीने सोचा नहीं था। यह सभी के लिये परीक्षा का समय है, परंतु हमें हर परिस्थिती के लिये एव्हररेडी रहना चाहिये। परिस्थिती अनुसार मार्ग निकाल आगे बढ़ने की हमारी तैयारी हो। उन्होंने कहां, समस्या का वर्णन करने से समस्यायें खत्म नहीं होती। पहाड को टकराने से सिर स्वयं का ही फुटेगा उसके बजाय हम पहाड के बाजु से स्वयं अपना मार्ग निकाले। वर्तमान समय, समय के ईशारे को समझना है। सर्व संसार के त्रस्त लोगों के लिये हमें शुभभावना शुभकामना हो और हमें स्वयं को भी बचाना है। इसके लिये सरकारी निर्देश तथा डॉक्टर्स के निर्देश प्रमाण हमें सभी नियमों का पालन करना चाहिये। सभी अपने मन से भय निकालकर निर्भय हो, स्वयं को परमात्मा की छत्रछाया में सुरक्षित महसुस करे। तन की, घर की, परिसर की स्वच्छता के साथ मन को भी स्वच्छ बनाये, स्वयं को सर्वांगीन रुप से सशक्त बनाये। सबका मनोबल बढाये। आनेवाली भविष्य की परिस्थितीयों को पार करने के लिये भी हम स्वयं को सक्षम बनाये।

कार्यक्रम के आरंभ में विश्व शांति सरोवर, नागपुर सेवाकेन्द्र की निर्देशिका ब्रह्माकुमारी रजनी दीदी जी ने शब्द सुमनों से स्वागत करते हुये कहां कि, विश्व शांति सरोवर दिवंगत पुष्पारानी दीदी जी का सपना था, जो साकार हुआ और ईश्वरीय सेवा के लिये सज्ज हैं। आनेवाले समय में यहां विभिन्न वर्गों की सेवायें सम्पन्न होगी। उन्होंने आशा दीदी को भी नागपुर पधारने का निमंत्रण दिया।

इस अवसर पर भुमी को दान करने वाले श्री सुशील अग्रवाल जी उपस्थित थे, उन्होंने भी ईश्वरीय कार्य की सराहना करते हुये बधाईया दी। सेंटर की छोटी बहनों द्वारा नृत्य प्रस्तुत किया गया। दिप प्रज्वलन तथा केक काटकर सभी ने अपनी खुशीयां जाहिर की। डॉ. निर्मल चन्ने तथा श्रीमती उषा मंत्री द्वारा लिखीत कुछ भावपुर्ण कवितायें भी प्रस्तुत की गई। इस अवसर पर बी.के. प्रेमप्रकाश भाई जी, बी. के. रक्षा बहन, बी.के. नीतु बहन, बी.के. मंजु बहन, बी.के. दमयंती बहन आदि उपस्थिती थे। कार्यक्रम का सफल संचालन बी.के. वर्षा बहन ने किया तथा आभार प्रदर्शन नागपुर सेवाकेन्द्र की उप-संचालिका बी.के. मनिषा दीदी जी ने किया।