MLA Surat Appreciates Work of Brahma Kumaris

Surat ( Gujarat ): The South Gujarat Textile Traders Association and the Brahma Kumaris organized a program with BK Sister Shivani at the Veer Narmada South Gujarat University Auditorium. The topic of the day was “Password for happy and successful life in business”. Thousands of people from the city participated in this event.

This program was inaugurated by legislator Mr. C. R. Patel, Collector Mr. Hitesh Koya, officers of the textile association, Rajyogini BK Sonal and BK Shivani.

BK Sonal welcomed everyone in her inaugural speech.

Mr. C. R. Patel in his speech appreciated the work of giving mental peace to all done by the Brahma Kumaris.

BK Shivani, while interacting with the audience, said that the reason for our discontent is that we expect people to behave according to our expectations. In such situations, we can apply yoga to keep calm. Whatever is the condition of our mind at the time of death becomes our basis in the next life. In addition, she laid great emphasis on consuming satwik food and water kept in pure vibrations. She also urged people to go to the Brahma Kumaris center and learn Rajayoga meditation.

News in Hindi:

साऊथ गुजरात टेक्सटाइल्स ट्रेडर्स एसोसिएशन एवं ब्रह्माकुमारीज ने संयुक्तरूप से मिलकर बी के शिवानी दीदी का Password for happy and successful life in business” विषय पर एक टॉक शो वीर नर्मद साउथ गुजरात यूनिवर्सिटी ऑडिटोरियम में आयोजित किया I इस कार्यक्रम में शहर के हजारों लोगों ने हिस्सा लिया I कार्यक्रम का उद्घाटन सांसद श्री सी आर पाटिल, कलेक्टर श्री हितेष कोया, टेक्सटाइल एसोसिएशन के पदाधिकारियों एवं ब्रह्माकुमारीज की राजयोगिनी सोनल दीदी एंड राजयोगिनी शिवानी दीदी ने किया I कार्यक्रम की शुरुआत सेवाकेन्द्र प्रभारी राजयोगिनी सोनल दीदी के आशीर्वचन के साथ हुआ I श्री सी आर पाटिल ने अपने उद्बोदन में ब्रह्माकुमारीज का मन एवं बुद्धि को शांत करने के अभूतपूर्व कार्य की सरहाना की |

                        बी के शिवानी दीदी ने बताया कि हमारे आसपास की परिस्थितियां यदि हमारे अनुकूल न हो और लोग हमारी बात को नहीं माने तो हमारा मन अशांत हो जाता है I ऐसी परिस्थितियों में हम ज्ञान एवं योग के द्वारा अपनी स्थिति को स्थिर रख सकते हैं I उन्होंने यह भी बताया कि शरीर छोड़ते समय हमारी आत्मा की  जो स्थिति रहती है, वही हमारा अगले जन्म का भाग्य बन जाता है I इसके अलावा उन्होंने घर में भगवान की याद के बनाये गये सात्विक भोजन  तथा भगवान की याद में पानी पीने एवं खाने पर भी जोर दिया I दीदी ने सभी लोगों को पास के  ब्रहामाकुमारीज सेंटर में जाकर ज्ञान लेने एवं राजयोग की विधि सीखने को कहा |

अंत में बी के शिवानी दीदी ने सभी को शांति में उठने और १५ मिनट तक घर पहुँचने तक शांति में रहने एवं बताये गए ज्ञान का स्मरण करने को कहा I सभी लोगों ने दीदी द्वारा दिए निर्देशन का सम्पूर्ण पालन किया I