“Mansarovar” Isolation Centre of Brahma Kumaris is a Boon for Corona Patients

Abu Road ( Rajasthan ): The Corona patients appear to be on the increase in the country and the state.  It is a matter of pleasure that a number of those being cured in the State is better on Abu Road.  Especially, the Mansarovar Isolation Centre of the Brahma Kumaris is the biggest in the Division located at Kivarli on Abu Road, provided with 800 beds and all the facilities required.

In this Covid Care Centre, Medicine, Medication, Meditation, Yoga and Spiritual Ambience are doing miracles where there is not a single case of death found out of more than 1,000 patients being admitted so far. Hundreds of patients were discharged after complete cure. Medical in Charge Dr. Saleem and Mr. Sukhbir Singh bid farewell to them by clapping. Out of them, many belonged to Revdar, Abu Road and Pindwara, and were recently found positive.

Dr. Saleem said that whoever comes here as patients, go away very happily. Here recovery is fast because the atmosphere is Pure, Moral and Spiritual. So far, not a single death has occurred here.
For all Covid-infected patients coming into Mansarovar Isolation Centre, meals, tea and tiffinis are provided by the Brahma Kumaris. The Spiritual Atmosphere, Cleanliness, Yog, Rajayog and Pure Food are very beneficial for people. The recovery rate is also more than 95% at this Centre.
News in Hindi:

कोरोना रोगियों के लिए वरदान साबित हो रहा मानसरोवर आईसोलेसन केन्द्र

एक दिन में 137 लोगों को किया डिस्चार्ज, 95 प्रतिशत से ज्यादा रिकवरी रेट आबूरोडा वैसे तो करोना देश व राज्य के अलावा जिले में काफी प्रभारी डॉ सलीम ने बताया कि यां जो भी पेशेन्ट आते है। वह: तेजी से बढ़ रही है। लेकिन, ठीक होने वाले लोगों की ज्यादा बहुत ही खुश होकर जाते है। क्योंकि यह्यं का वातावरण बहुत ही संख्या भी खुशी देने वाली है। पूरे प्रदेश में बड़ी संख्या में लोग शुद्ध, सात्विक व आध्यात्मिक होने के कारण बहुत जल्दी रिकवरी: ठीक हो रहे है। लेकिन, संभाग का सबसे बड़ा कोविड केयर सेन्टर हो रही है। अभी तक यहाँ एक भी मौत नी हुई है। आबूरोड के किवरली स्थिति ब्रह्माकुमारीज संस्थान द्वारा दिया खान पान व आध्यात्मिक वातावरण से मदद गया। मानसरोवर आईसोलेसन केन्द्र है। 8 सौ बेड व बेहतरीन मानसरोवर आइसोलसन केन्द्र में आने वाले सभी कोविडप्रभावितों : सुविधाओं वाले इस आईसोलेसन केन्द्र में मेडिसीन, मेडिकेसन, के भोजन, चाय व नाश्ता संस्थान कर रही है। आध्यात्मिक मेडिटेशन व योग तथा आध्यात्मिक परिवेश ने चमत्कार कर दिया वातावरण व स्वच्छता, योग, राजयोग व सात्विक भोजन से लोगों : है। यां अब तक एक हजार से च्यादा रोगियों को भर्ती किया गया को ज्यादा लाभ मिल रह्य है। था। लेकिन, अभी तक एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। शुक्रवार को 137 कोविड मरीजों को ठीक होने पर डिस्चार्ज किया गया। मानसरोवर चिकित्सा प्रभारी डॉ सलीम व सुखवीर सिंह ने ताली बजाकर लोगों को विदाई दी। शुक्रार को डिस्चार्ज होने वाले में ज्यादातर लोग लोग रेवदर. आबरोड, ओर पिण्डवाड़ा के है।