Blood Donation Camp by Brahma Kumaris

Jhabua (Madhya Pradesh): The Brahma Kumaris in Jhabua organised a Blood Donation Camp in Gopalpura village in the Jhabua District on the occasion of the Vasanth Panchami Festival.

Some 32 people volunteered and 32 units of blood were collected, in which mostly young and adult ladies gave their blood with great spirits, exhibiting the importance of blood to the needy. They were aware that many lives will be saved by their blood.

The event was started after lighting the lamps — arranged in the form of ॐ (om) — by BK Jyoti, BK Jayanti and Dr. G S Trivedi, Deputy Director of Agriculture, and a meditation with guests and participants.

Mr. Samarth Patidar, of Targech Coaching Classes, and students expressed the necessity of blood by lending their blood with joy.

BK Jyoti said, “Everyone can donate blood once in 3 months without any harm to their health, as charity because that may save many lives for want of blood.”

Mr. Ramesh Solanki and Mr. Prem Singh Tomar, Technicians from District Hospital Lab, assisted in the process of blood collection.

BK Jayanti said that 32 units of blood thus collected were handed over to the District Hospital Lab to save the lives of the patients suffering from Anaemia.

In Hindi:

ब्रह्माकुमारीज संस्था पर मेगा रक्तदान शिविर में 32 यूनिट ब्लड हुआ एकत्रित, महिलाओं और बालिकाओं ने भी उत्साह के साथ किया रक्तदान, जरूरत मंद मरीजों की सहायता के लिए जिला चिकित्सालय को प्रदान किया जाएगा संग्रहित रक्त।
झाबुआ।  ग्राम गोपालपुरा में बसंती पंचमी के अवसर पर मेगा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें जिलेभर के कुल 32 लोगों ने सहभागिता कर ब्लड डोनेट किया। जिसमें महिलाओं और बालिकाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेकर रक्तदान कर इसके महत्व को प्रतिपादित किया। इस प्रकार कुल 32 यूनिट रक्त एकत्रित हुआ। यह एकत्रित रक्त जरूरतमंद मरीजों की सहायता के लिए जिला चिकित्सालय के लेब विभाग को प्रदान कर दिया गया है।
मेगा रक्तदान शिविर का शुभारंभ बीके ज्योति दीदी, बीके जयंती दीदी एवं कृषि विभाग के उप संचालक डाॅ. जीएस त्रिवेदी द्वारा ऊॅ की आकृति पर दीप प्रज्वजलन कर किया गया। पश्चात् उपस्थित सभीजनों द्वारा मेडिटेषन किया गया। तत्पष्चात् बारी-बारी से रक्तदान किया। जिसमें विषेष सहभागिता बीके विनोदभाई रानापुर, संतोषभाई मेघनगर, सिद्धार्थभाई झाबुआ, जोगाभाई टिकड़ी मोती, हरिओमभाई बामनिया, रमेषभाई, दिलीपभाई के साथ विषेषकर महिलाओं में स्वाति, रूचि, भावना, गीता, रमिला, रानूबहन द्वारा कर रक्तदान कर, जागरूकता का संदेष दिया। टारगेच कोचिंग क्लासेस से समर्थ पाटीदार एवं कोचिंग क्लासेस से आए समस्त विद्यार्थियों ने भी रक्तदान देते हुए रक्तदान जरूरी है, की भावना को व्यक्त किया।
प्रत्येक 3 माह में कर सकते है रक्तदान इससे पूर्व बीके ज्योति दीदी ने रक्तदान के महत्व के बारे में जानकारी दी कि रक्तदान प्रत्येक व्यक्ति को करना चाहिए, इससे किसी एनीमिया की कमी के जरूरतमंद मरीज की जान बचाई जा सकती है। प्रत्येक 3 माह में एक बार रक्तदान किया जा सकता है। इससे हमारे शरीर में कोई कमजोरी नहीं आती है, अपितु यह एक बहुत बड़ा दान होकर जरूरतमंद की जान बचाता है।
जिला चिकित्सालय को प्रदान किया गया ब्लड रक्तदान शिविर में जिला चिकित्सालय के लेब विभाग के रमेश सोलंकी एवं प्रेमसिंह तोमर ने अपनी सेवाएं दी। यह शिविर दोपहर 12 से करीब 3 बजे तक चला। बीके जयंती दीदी ने बताया कि संग्रहित रक्त को जिला चिकित्सालय के लेब विभाग को दिया गया है, ताकि चिकित्सालय में एनीमिया से पीड़ित रोगी आने पर उन्हें अलग-अलग ग्रुपों का यह ब्लड प्रदान किया जा सके और जरूरतमंद की जान बच सके।